आप हमारे तक पहुंच सकते हैं

   

Traffic Police

पुलिस मेरिन बल का इतिहास

पुलिस मेरिन बल जिसे पहले तटरक्षक पुलिस के नाम से जाना जाता था अण्डमान तथा निकोबार द्वीपसमूह में वर्ष 1957 में अण्डमान तथा निकोबार पुलिस के सहायक के रूप में आस्तित्व में आया । वर्ष 1978 में तटरक्षक पुलिस का पुनर्गठन कर पुलिस मेरिन बल नामित किया गया । अभी पुलिस मेरिन बल निगरानी तथा गश्त लगाने के लिए तेज अवरोधक बोट/नौका/रबरीकृत हवा भरा हुआ बोट का उपयोग करता है ।

पुलिस मेरिन बल की आवश्यक्ता

  • अवैध कार्रवाई से तटरेखा को बचाना
  • विदेशी घुसपैठ का पता लगाना
  • विदेशी घुसपैठी हमारे खाली पडे वीरान द्वीपों में बस जाते है
  • विदेशी घुसपैठी हमारे बिखरे, वीरान द्वीपों का उपयोग नशीली दवाओं, हथियारों की तस्करी, उग्रवादी क्रियाकलापों के लिए करता है ।

पुलिस मेरिन बल का कार्य

  • 5 समुद्री मील तक तटवर्ती क्षेत्रों का गश्त लगाना (क्षेत्राधिकार का जिम्मेदारी 12 समुद्री मील तक), 0-200 समुद्री मील, ईईजेड और गहरा समुद्र की जिम्मेदारी क्रमश: भारतीय तटरक्षक और भारतीय नौसेना की है ।
  • सीमांतर्गत जलक्षेत्र में मछली पकड़ने वाले मछुआरों की पहचान करना ।
  • विदेशी घुसपैठियों को पकड़ना ।
  • सँकरी खाड़ी तथा उथला जल में खोज तथा बचाव कार्य ।
  • प्राकृतिक विपत्ति तथा आपदा में बचाव और पुनर्वास कार्य में सहायता करना ।

पुलिस मेरिन नियंत्रण कक्ष को सोंपे गए कार्य/जिम्मेदारियां

  • तटरेखा के पास उथले क्षेत्र की निगरानी और  गश्त लगाना ।
  • अवैध और आपराधिक क्रियाकलापों की रोकथाम और विरोध ।
  • तटवर्ती क्षेत्रों में रहने वाले मछुआरों, पर्यटकों और लोगों के अन्दर सुरक्षा और निश्चिन्तता की भावना विकसित करना ।
  • तटीय सहायता दूरभाष सं. 1093 (सीधी संचार व्यवस्था)(होटलाइन) के माध्यम से मछुआरों और आम जनता को 24 x 7 सहायता और सेवा प्रदान करना ।
  • सजातीय अधिवासी जो घुसपैठियों को मदद कर रहा है पर कडी निगरानी रखना ।
  • तटीय आसूचना एकत्र करने के लिए भारतीय नौसेना और तटरक्षक, मत्स्यिकी विभाग जैसे विभिन्न एजेन्सियों के साथ समन्वय करना ।
  • अंतःस्थलीय जल में विविध जहाजों की आवाजाही पर निगरानी करना ।
  • दूरभाष सं. 03192 239247 और सीधी संचार व्यवस्था 1093 ।

पुलिस मेरिन बल की आस्थियां

  • पुलिस मेरिन बल अवरोधक बोट/नौका/रबरीकृत हवा भरा हुआ बोट से तटीय गश्त लगाते है ।
  • दस तेज अवरोधक बोट काम पर लगाया हुआ है ।
  • स्कूवा डाइविंग इकाई की स्थापना की गई ।
top